The True Job Alerts And Educational News

Friday, February 19, 2021

RBSE Rajasthan Board: राजस्थान कक्षा 10, 12 के अलावा सभी स्कूली परीक्षाएं अप्रैल में कराने का प्रस्ताव

 

RBSE Rajasthan Board: राजस्थान कक्षा 10, 12 के अलावा सभी स्कूली परीक्षाएं अप्रैल में कराने का प्रस्ताव



RBSE Rajasthan Board Class 10, 12 Exam 2021 : माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान की कक्षा 10 और 12 के अलावा अन्य स्कूली परीक्षाएं अप्रैल महीने में कराने की योजना बनाई है। इस संबंध में शिक्षा विभाग ने राज्य सरकार को एक प्रस्ताव भेजा है। 



शिक्षा विभाग के प्रस्ताव में कहा गया है कि राजस्थान के सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों में कक्षा 10 और 12 को छोड़कर अन्य सभी कक्षाओं की स्कूली परीक्षा अप्रैल महीने में होगी। साथ ही नया सत्र 15 जून से शुरू करने की योजना है। बता दे कि, माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने प्रस्ताव बनाकर भेजा है, जब सूबे की सरकार इसे स्वीकृत करेगी तभी यह अमल में लाया जाएगा। प्रदेश का शिक्षा विभाग कोरोना के कारण डगमगाई शिक्षा प्रणाली को सुधारने में भरसक प्रयास कर रहा है। 


इस बारे में माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने बताया कि, हम बोर्ड परीक्षाओं से पहले ही अन्य सभी कक्षाओं की परीक्षा पूर्ण करने में लगे हैं, ताकि नया सत्र सही समय व सही रणनीति के साथ शुरू हो सके। साथ ही कक्षा 3 से 9 और 11वीं का पेपर बनाने की जिम्मेदारी भी अलग-अलग तय की जा रही है। 


शिक्षा निदेशक ने कहा कि, इस बार बड़ी कक्षाओं के पेपर माध्यमिक शिक्षा निदेशालय तैयार करेगा। ये पेपर एक जैसे नहीं होंगे, बल्कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तरह चार तरह के पेपर तैयार होंगे। इसमें प्रश्न तो एक जैसे होंगे लेकिन उत्तर में विकल्प का क्रम अलग-अलग होगा। उन्होंने कहा है कि, यह केवल प्रस्ताव है, इसे स्वीकार करना या न करना सरकार के हाथ में है। अगर सरकार को लगेगा कि यह प्रस्ताव लाभकारी है तो सरकार स्वयं ही इसे अमलीजामा पहना देगी। 


यह भी पढे - RBSE कक्षा 1 से 12  तक का नवीनतम पाठ्यक्रम डाउनलोड करें


10th Modal Paper- clickhere


12th Modal Paper- clickhere


कहा जा रहा है कि, शिक्षा विभाग ने जो प्रस्ताव सरकार को भेजा है उसमें 15 जून से नया सत्र शुरू करने की बात कही है। ऐसा इसलिए भी किया जा रहा है कि अगले शिक्षा सत्र में बच्चों को पढ़ाई के लिए पूरा वक्त मिल सके। वहीं, इसके दूसरे पहलू को देखा जाए तो अभी तक यह ही तय नहीं है कि कक्षा 3 से 5 तक के बच्चों के स्कूल कब खुलेंगे, लेकिन परीक्षा कराने की बात प्रस्ताव में सम्मिलित है।