The True Job Alerts And Educational News

    Join Whatsapp  clickhere    

Monday, August 17, 2020

National Digital Health Mission: जानिए क्या है। नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन और इससे देश के लोगो को क्या लाभ होगा, प्रीतियोगी परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण बातें


कोरोना वायरस महामारी के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर 'नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन' (National Digital Health Mission) का ऐलान किया है। उन्होंने बताया कि इस अभियान के तहत सभी भारतियों की एक पर्सनल हेल्थ आईडी बनेगी और उसमें सभी मेडिकल जांच, बीमारियां, किस डॉक्टर ने कौन सी दवा और कब दी, आपकी रिपोर्ट्स क्या थीं आदि जानकारियां समाहित होगी।


हर भारतीय को मिलेगा हेल्थ आईडी कार्ड


मोदी ने कहा कि देश स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक बहुत बड़ा अभियान शुरू होने जा रहा है, जो इस क्षेत्र में एक नई क्रांति लेकर आएगा।


हेल्थ आईडी कार्ड में शामिल होंगी सभी हेल्थ डिटेल्स


उन्होंने बताया कि यह कार्ड एक प्रोफाइल की तरह काम करेगा जिसमें डॉक्टर को दिखाने, फार्मेसी से दवाएं लेने और टेस्ट कराने आदि जानकारियां ऑनलाइन ऐड की जाएंगी। पीएम मोदी ने कहा, डॉक्टर की नियुक्ति से लेकर दवा की सलाह तक, सब कुछ आपके हेल्थ प्रोफाइल में उपलब्ध होगा।


'नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन' क्या है (What is National Digital Health Mission)


केंद्र सरकार द्वारा देश में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत योजना) चल रही है जिसका उद्देश्य गरीबों को मुफ्त इलाज और पांच लाख रुपये का बीमा कवर देने का प्रावधान है। नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन भी इसी तरह की योजना है जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों की स्वास्थ्य से जुड़ी तमाम जानकारियों को एक जगह इकठ्ठा करना है ताकि बीमार होने पर उसका आसानी से इलाज किया जा सके।


इस अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कोरोना-संकट का सामना कर रहे है भारत में स्वास्थ्य को प्राथमिकता देते हुए प्रधानमंत्रीजी ने National Digital Health Mission की घोषणा की है। एक Digital ID के सहारे सभी देशवासी अपना इलाज कहीं से भी करा सकेंगे। यह योजना स्वास्थ्य क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन लाएगी।


नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन हेल्थ आईडी कार्ड क्या है (What is National Digital Health Mission Health ID Card)


सरकार नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के तहत सभी भारतीयों का एक हेल्द आईडी कार्ड बनवाएगी। इस तरह का कार्ड आयुष्मान भारत योजना में बनाया जाता है। इस कार्ड में व्यक्ति की पूरी प्रोफाइल होगी जिसमें उसके स्वास्थ्य से जुड़ीं तमाम जानकारियां होंगी।

यानी बीमार होने पर आप जब भी किसी डॉक्टर या दवा लेने जाएंगे तो वो सारी डिटेल्स इस कार्ड में ऐड की जाएंगी ताकि आपकी पूरी हेल्थ रिपोर्ट एक जगह बनी रहे और भविष्य में बीमार होने पर बेहतर और त्वरित इलाज में मदद मिल सके।


No comments:

Post a Comment